जल्द रिहा हो सकते हैं मधेपुरा के पूर्व सांसद और JAP प्रमुख पप्पू यादव

मधेपुरा से पूर्व सांसद और जनाधिकार पार्टी (JAP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव (Pappu Yadav) चार महीने से ज्यादा समय से जेल में बंद हैं। ऐसे में उनके समर्थकों के लिए अब अच्छी खबर सामने आ रही है। पप्पू यादव जल्द ही रिहा हो सकते हैं। सोमवार को पटना हाईकोर्ट में उनके मुकदमे पर सुनवाई हुई। मामले में गवाही पूरी हो गई है। ऐसे में अब कोर्ट को फैसला देना है।

कोर्ट में हुई कार्यवाही के बाद ऐसी उम्मीदें हैं कि जाप प्रमुख जल्द ही बाहर आ सकते हैं। इसको लेकर जाप कार्यकर्ताओं में खुशी की लहर है। लाकडाउन के दौरान पप्पू यादव को 11 मई को पटना से गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि पप्पू यादव न्यायिक हिरासत में डीएमसीएच के मेडिसिन वार्ड में इलाजरत हैं।

 

32 साल पुराने मामले में हुए गिरफ्तार

  • जाप प्रमुख जिस मामले में गिरफ्तार हुए वो आज से करीब 32 साल पुराना है।
  • 1989 में पप्पू यादव, रामकुमार यादव और उमाकांत यादव एक साथ रहते थे।
  • गुट के ही एक युवक ने एक लड़की से शादी कर ली थी।
  • इस कारण पप्पू यादव का रामकुमार यादव और उमाकांत यादव से मतभेद हो गया।
  • 29 जनवरी 1989 को रामकुमार यादव के चचेरे भाई शैलेन्द्र यादव ने मुरलीगंज थाना में शिकायत दर्ज कराते आरोप लगाया।
  • आरोप में कहा गया कि पप्पू यादव ने दिनदहाड़े रामकुमार यादव और उमाकांत यादव को जान से मारने की नीयत से अपहरण कर लिया है।

 

इसी मामले पर पप्पू यादव को गिरफ्तार किया गया। पप्पू यागव की रिहाई को लेकर पार्टी कार्यकर्ता लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बार बिहार में आई बाढ़ में बचाव कार्य को लेकर जाप कार्यकर्ता पप्पू यादव को मिस करते रहे। अब जाप प्रमुख के रिहाई की उम्मीदें जताई जा रहीं हैं।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : jagran

Leave a Comment

close