खेत में फसल तोड़ रहे परिवार पर मधुमक्खी के झुंड का हमला, पति-पत्नी की मौत

बांका. मधुमक्खी के झुंड द्वारा अचानक किए गए हमले में एक ही परिवार की तीन महिला समेत छह लोग जख्मी हो गए. इस घटना में बुजुर्ग दंपति की मौत हो गई. मृतकों में 60 वर्षीय बुजुर्ग भरत पंडित भी शामिल हैं. घटना चांदन प्रखण्ड के बिरनिया पंचायत के सुपहा गांव की है. बताया जा रहा है कि भरत पंडित का परिवार खेत में लगे मक्के को तोड़ने गया था लेकिन फसल के बीच में ही मधुमक्क्खी का छत्ता (Honey Bee Attack) होने की जानकारी किसी को नहीं थी.

 

मक्का तोड़ने के दौरान किसी तरह छत्ते से छेड़छाड़ हुआ और मधुमक्खी के झुंड का रौद्र रूप देखने को मिला. इस हमले के दौरान परिवार के सभी लोग बदहवास होकर खेत में ही गिर पड़े और मधुमक्क्खी का हमला जारी रहा. बाद में जब जख्मी लोगों के रोने की आवाज लोगों को मिली तो लोगों ने सभी को चांदन स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया लेकिन स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक की अनुपस्थिति और  बदहाली से लोगों का गुस्सा फूट पड़ा.

 

बाद में लोगों ने जनप्रतिनिधियों से संपर्क साधा तब जाकर कुछ मामला सम्भल पाया और इसी दौरान इलाज के क्रम में ही भरत पंडित की मौत हो गयी. मृतक भरत पंडित की पत्नी जमुनी देवी का इलाज देवघर में चल रहा था लेकिन लगातार स्थिति गंभीर होने के बाद देवघर में इलाज के दौरान मौत हो गयी. घटना के बाद से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है. हमले में जख्मी हुईं ललिता देवी, अजय पंडित, दामोदर पंडित और मालती देवी का इलाज जारी है. इस बाबत बांका सिविल सर्जन सुधीर महतो ने स्वास्थ्य केंद्र पर इलाज के दौरान अव्यवस्था को लेकर मामले की तहकीकात करने की बात कही है.

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : News18

Leave a Comment

close