छठ से पहले पटना आना मुश्किल, ट्रेन बस में जगह नहीं, हवाई किराया आसमान पर

पटना. छठ से पहले प्रवासी लोगों का बिहार आना मुश्किल होता जा रहा है. बिहार के लिए ये त्योहार खास मायने रखते हैं. छठ पर्व तो बिहार की पहचान है. घर और गांव से दूर रह रहे लोगों के लिए बिहार आना बहुत महंगा हो गया है. ट्रेनों में काफी भीड़ है, जिसके कारण रिजर्वेशन में भी दिक्कत आ रही है.

 

ट्रेन में आने-जानें वालों की लंबी वेटिंग लिस्ट है. अब पटना दिल्ली बस में यात्रियों की भीड़ और ही अधिक बढ़ गयी है. पटना से बीएसआरटीसी की दो बसें हर दिन दिल्ली जाती और आती हैं. इनमें एक स्लीपर और दूसरी सीटर है.

 

दोनों लग्जूरियस वोल्वो बसें हैं. इधर हवाई जहाज का किराया आसमान पर चला गया है. अब तक यह किराया चार गुना तक बढ़ चुका है. आलम यह है कि हवाई जहाज से पटना आना आम आदमी की पहुंच से बाहर हो चुका है.

 

इस वक्त दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और लखनऊ से बिहार जाने वाली सभी जहाज की टिकटें महंगी हो चुकी है. दरभंगा को अगर छोड़ दिया जाये तो अकेले पटना के लिए किराया मुंबई से सामान्य से चार गुना और लखनऊ से तीन गुना हो गया है. वहीं, दिल्ली का किराया सामान्य से दोगुना और हैदराबाद का 2.5 गुना चल रहा है. विमान किराये में यह वृद्धि 30 अक्तूबर से लगभग-लगभग छठ पर्व के आसपास तक है.

 

दशहरा का त्योहार मनाकर पटना से दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद समेत अन्य महानगरों में जाने वालों की भीड़ बढ़ गयी है. वही, दिवाली और छठ पूजा पर्व को लेकर आने वालों की सख्या भी काफी बढ़ गयी है. इसके कारण हवाई सफर का किराया बढ़कर दोगुना ने ढाई गुना हो गया है.

 

पटना एयरपोर्ट के लिए किराये पर नजर डालें तो इसी 30 अक्टूबर को चेन्नई से पटना आने के लिए 10092 रुपये किराया देना होगा. मुंबई से 9566, बेंगलुरु से 7497, हैदराबाद से 8086, दिल्ली से 5691, कोलकाता से 4809, लखनऊ से 4696 किराया देना होगा. इतनी महंगाई के बाद लोगों के लिए अलग-अलग शहरों से पटना आना बहुत महंगा पड़ने वाला है.

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source: Prabhat Khabar

Leave a Comment

close