दुल्हन बनने से पहले ही युवती का अश्लील वीडियाे वायरल, बिहार के सीतामढ़ी में चौकाने वाली घटना

शादी तय होने के बाद लड़की को झांसे में लेकर अश्लील वीडियो बनवाकर ब्लैकमेल करने का एक मामला सामने आया है। मामले में पीडि़त लड़की के पिता की शिकायत पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। बैरगनिया नगर के एक व्यवसायी की पुत्री से हथियार के बल पर मोबाइल से अश्लील वीडियो बनाकर वाट्सएप पर वायरल कर दिया गया। इस परिवार की प्रतिष्ठा धूमिल हो रही है तथा लड़की ने वीडियो वायरल होने के चलते खाना-पीना छोड़ दिया है। वह आत्महत्या कर लेने की बात कर रही है। थानाध्यक्ष रणवीर कुमार झा ने बताया कि कांड दर्ज कर अग्रेतर कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

 

पीड़ित पिता का कहना है उनकी पुत्री की शादी पूर्वी चंपारण जिले के पचपकड़ी थाना अंतर्गत वृता टोला निवासी शिवशंकर चौधरी के पुत्र प्रणोदय चौधरी से होने की बात चल रही थी। इसी दौरान पुत्री की फोटो की डिमांड की गई। लड़का पक्ष को फोटो दिखाने के लिए भेजी गई। उसी क्रम में बंदूक दिखाकर जबरदस्ती उनकी पुत्री का मोबाइल से गलत वीडियो बना लिया। इसी कारण से वे अपनी पुत्री की शादी से इनकार कर गए। कुछ दिनों बाद पुत्री का बनाया गया अश्लील वीडियो को लड़के वालों ने नगर के अशोगी वार्ड तीन निवासी विनोद पासवान के पुत्र सागर पासवान के वाट्सएप पर भेज दिया। उक्त वीडियो को सागर पासवान द्वारा वायरल कर दिया गया। प्रणोदय चौधरी उसके प्रतिष्ठान के नाम से फर्जी आईडी बनाकर उनकी पुत्री का अश्लील वीडियो वायरल कर रहा है।

 

मोहब्बत परवान चढ़ी तो घर से भागे प्रेमी युगल, ढेंग स्टेशन पर पकड़ाए

सीतामढी। आज की युवा पीढ़ी मोहब्बत के चक्कर में क्या कुछ नहीं कर गुजरते। पड़ोसी जिला मुजफ्फरपुर के औराई के रहने वाला यह प्रेमी युगल भी कुछ ऐसा ही कर गुजरा। मगर, घर से भागकर सीतामढ़ी पहुंचने के साथ ही रेल पुलिस की नजर आ गया। दोनों ने साथ जीने मरने की कसमें खाई। मोहब्बत परवान चढ़ी तो स्वजनों ने दोनों की मुलाकातों पर बंदिशें लगा दीं। मोहब्बत के दीवानों को बंदिशें रोक नहीं सकी। फिर मौका पाकर भाग निकले। मगर, किस्मत दगा दे गई। बैरगनिया के ढेंग रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार सुबह तकरीबन 05:00 बजे दोनों पकड़ा गए। स्टेशन अधीक्षक अरुण कुमार ठाकुर की नजर उनपर पड़ गई। तब दोनों कके हावभाव देखकर उनको कुछ खटका। उन्होंने दोनों को अपने कार्यालय में बुलवाया और पूछताछ की तो सारा माजरा खुलकर सामने आ गया। लड़के ने अपना नाम रामप्रवेश कुमार पिता बैद्यनाथ सिंह ग्राम पड़री धरहरवा थाना औराई का रहने वाला बताया है। लड़की ने भी अपना परिचय दिया। स्टेशन मास्टर सीतामढ़ी रेल थानाध्यक्ष राज कुमार राम को सूचना दी। तुरंत एक टीम ढेंग पहुंच गई और प्रेमी युगल सीतामढ़ी रेल थाने लाया गया। रेल थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों के घर वालों बुलाकर उनके हवाले कर दिया गया। दोनों के परिवार वाले उनको वापस लौटने पर प्रसन्न हो गए और कृतज्ञता जताई।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : Dainik Jagran

Leave a Comment

close