पटना : नशाखुरानी गिरोह की शिकार हुई महिला से हुआ गैंगरेप, फोरलेन पर पायी गयी थी

नशाखुरानी गिरोह की शिकार महिला के साथ पटना में गैंगरेप की वारदात हुई। रविवार की सुबह पटना-बख्तियारपुर फोरलेन पर 26 साल की एक महिला बुरी स्थिति में पाई गई थी। महिला मोतिहारी की रहने वाली है और वह अपने पति के साथ राजस्थान के कोटा में रखी थी। शनिवार की शाम महिला पटना पहुंची थी और पटना पहुंचने के बाद वह नशाखुरानी गिरोह की शिकार हो गई।

 

पीड़िता के बयान पर पुलिस ने गैंगरेप की प्राथमिकी दर्ज कर ली है। फतुहा थाने में मामला दर्ज किया गया है। पीड़िता के मुताबिक शनिवार की शाम जब वह अपनी 3 साल की बच्ची के साथ पटना पहुंची तो स्टेशन से बाहर निकलते ही ऑटो वालों के नशाखुरानी गिरोह के चंगुल में फंस गई। उसने बताया कि नशाखुरानी गिरोह ने उसे फंसा लिया और फिर वह उसे एक सुनसान गोदाम में ले।गए। पहले उसके रुपए, मोबाइल और बाकी कीमती सामान लूट लिए गए और फिर गिरोह के सदस्यों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। वारदात को अंजाम देने के बाद गिरोह के सदस्य एक बाइक पर बिठाकर उसे फोरलेन ओवरब्रिज के पास ले गए और बच्ची के साथ उसे वहां छोड़ दिया। फोरलेन पर बदहवास स्थिति में पड़ी इस महिला के ऊपर पुलिस की नजर पड़ी और पुलिस उसे अपने साथ थाने ले आयी।

 

पीड़िता ने जो जानकारी दी है उसके मुताबिक गौरीचक थाना इलाके के सुडीहा के पास से एक सुनसान गोदाम में उसे रखा गया था, जहां उसके साथ गैंगरेप किया गया। पुलिस ने इस मामले में महिला के बयान के आधार पर कार्रवाई करते हुए दरियापुर के रहने वाले पंकज और सोतीचक के रहने वाले सोनू उर्फ विमल को हिरासत में लिया है। इस मामले में पुलिस दो अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी करने में जुटी हुई है।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source: First Bihar

Leave a Comment

close