पटना से नालंदा जा रही महिला से दरिंदगी, गैंगरेप के बाद फोरलेन सड़क पर फेंका

पटना. राजधानी पटना में एक बार फिर से गैंगरेप (Gang Rape) की घटना सामने आई है. मामला पटना के फतुहा थाना क्षेत्र से जुड़ा है. गैंगरेप का शिकार हुई पीड़िता फतुहा थाना क्षेत्र के फतुहा दनियावां एनएच 30 A (NH-30 A) पर रविवार की सुबह बेहोशी की हालत में मिली. महिला ने होश में आने के बाद जो बयान दिया उससे पुलिस के भी होश उड़ गए. उसने अपने साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म (Patna Gang Rape) की घटना के बारे में बताया.

 

महिला ने इस मामले में तीन अज्ञात लोगों पर मारपीट करने और सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगाया है. पीड़िता के बयान पर पुलिस मामला दर्ज करने के बाद अज्ञात मनचलों की पहचान और उनकी गिरफ्तारी को लेकर सघन छापेमारी अभियान में जुट गई है. दरअसल रविवार की सुबह फतुहा पुलिस ने फोर लेन स्थित रोहित ढाबा के पास से बेहोशी की हालत में एक महिला को बरामद कर उसे इलाज के लिए फतुहा पीएचसी में भर्ती कराया था.

 

महिला की गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने उसका प्राथमिक इलाज कर उसे बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर कर दिया था. बताया जाता है कि बिहारशरीफ की रहने वाली महिला पटना सिटी में मेड यानी नौकरानी का काम करती है. बीते शनिवार की शाम वह बिहारशरीफ जाने के लिए पटना से फतुहा आई और बिहारशरीफ जाने के क्रम में ही वह बदमाशों के चंगुल में फंस गई. इस दौरान तीन मनचलों ने उसके साथ मारपीट करने के बाद सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.

 

बाद में दुष्कर्मी महिला को बेहोशी की हालत में फोरलेन स्थित एक पानी से भरे गड्ढे के पास छोड़कर मौके से फरार हो गए. रविवार की सुबह ग्रामीणों की निगाह महिला पर पड़ी तो तत्काल ग्रामीणों ने पूरे मामले से पुलिस को अवगत कराया. ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर ठंड से कांप रही महिला को फतुहा पीएचसी में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे पीएमसीएच रेफर कर दिया. पुलिस के मुताबिक होश में आने के बाद महिला बार-बार अपना बयान बदल रही थी, बाद में उसने तीन अज्ञात लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की बात पुलिस को बताई.

 

पुलिस भी शुरुआत में सामूहिक दुष्कर्म की घटना को सिरे से नकारती रही, लेकिन महिला द्वारा इस संबंध में तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस अज्ञात मनचलों की पहचान और उनकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी अभियान में जुट गई है. पुलिस ने पीड़िता की मेडिकल जांच भी कराई है. पुलिस द्वारा पूरे मामले की एफएसएल जांच किए जाने की भी बात दोहराई है. इस संबंध में पुलिस अधिकारियों ने कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से भी सीधे तौर पर इंकार कर दिया है.

 

गौरतलब है कि एक पखवारा पूर्व भी पटना के फतुहा थाना क्षेत्र में नशा खुरानी गिरोह के सदस्यों ने राजस्थान के कोटा से पटना पहुंची एक महिला को अपना शिकार बनाते हुए सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था. इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था.

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : News18

Leave a Comment

close