प्यार का झांसा देकर भाभी की बहन को बनाया गर्भवती, जेल से छूटने पर मंदिर में रचाई शादी

बिहार के शेखपुरा (Sheikhpura) में एक अनोखी प्रेम कहानी सामने आई है. यहां एक युवक ने अपनी भाभी की चचेरी बहन को प्यार के जाल में फंसा कर उसे गर्भवती कर दिया. प्रेमिका ने जब उससे शादी की बात की तो उसने इससे इनकार कर दिया. प्यार में धोखा खाई लड़की ने हार नहीं मानी और उसने धोखेबाज प्रेमी को सबक सिखाने के लिए कानून का सहारा लिया. अदालत के आदेश पर प्रेमी को जेल जाना पड़ा. छह महीना जेल में रहने के बाद प्रेमी जब बाहर निकला तो उसे पता चला कि उसकी प्रेमिका ने एक बच्ची को जन्म दी है. इसके बाद समाज और परिवार के लोगो के बीच सहमति बनी और युवक ने अपनी प्रेमिका से शादी (Marriage) रचाई.

घटना अरियरी प्रखंड के सहनौरा गांव की है. मिली जानकारी के मुताबिक नीलू अपनी चचेरी बहन के देवर जितेंद्र कुमार को दिल दे बैठी. दोनों ने एक साथ जीने-मरने की कसमें खाई और युवती अपने प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगी. इस दौरान वो गर्भवती हो गई तो उसने अपने प्रेमी से शादी करने को कहा, लेकिन उसने इनकार कर दिया. मामला महिला थाना पहुंचा जिसके बाद प्रेमी को जेल जाना पड़ा. इस बीच युवती ने एक बच्ची को जन्म दिया. बिन ब्याही मां बनने के बाद भी युवती ने हार नही मानी. उसने समाज और अपने परिवार से बगावत करते हुए अबोध बच्ची के पिता का नाम को लेकर संघर्ष जारी रखा, और अंत में उसके प्यार की जीत हुई.

 

जेल से छूटने के बाद लखीसराय जिले के चानन थाना क्षेत्र के रेवता गोपालपुर गांव के रहने वाले जितेंद्र ने अपनी प्रेमिका और बच्ची को अपनाने का निर्णय लिया. इसके बाद प्रेमी जोड़े ने सबकी सहमति से  अरधौती पोखर स्थित मंदिर में हिंदू रीति-रिवाज से शादी रचाई. इस दौरान दोनों के परिवारवाले वहां मौजूद थे. शादी के बाद उन्होंने वर और वधू को सुखद वैवाहिक जीवन का आशीर्वाद दिया.

 

इस संबंध में महिला थाना अध्यक्ष चंदना कुमारी ने बताया कि प्राथमिकी (एफआईआर) के बाद प्रेमी को छह माह पहले गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था. जेल से जमानत पर छूटने के बाद जितेंद्र को अपनी गलती का एहसास हुआ और उसने प्रेमिका नीलू से मंदिर में शादी रचा ली.

1 thought on “प्यार का झांसा देकर भाभी की बहन को बनाया गर्भवती, जेल से छूटने पर मंदिर में रचाई शादी”

Leave a Comment

close