बारिश से हो गया फसल का नुकसान तो मत करें चिंता, बिहार सरकार देगी 11 जिलों के किसानों को आर्थिक मदद

अतिवृष्टि‍ के कारण जलजमाव की समस्या झेल 11 जिलों के प्रभावित लोगों को तुरंत राहत व सहायता मिलेगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मंगलवार को 11 जिलों के जिलाधिकारियों के साथ देर शाम वीडियो कान्फ्रेंसिंग के क्रम में यह निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने इन जिलों का हवाई व सड़क मार्ग से सर्वेक्षण किया था। उन्होंने जिलाधिकारियों को यह हिदायत भी दी कि तीन दिनों के अंदर फसल क्षति का आकलन कर लें तथा अधिक बारिश के कारण हुई फसल क्षति की रिपोर्ट उपलब्ध कराएं। यह भी कहा कि अत्यधिक जल जमाव के कारण जहां बुआई नहीं हो सकी है उसका भी ठीक से आकलन किया जाए।

 

इन 11 जिलों में है अधिक असर

1. नवादा 2. नालंदा 3. पटना 4.वैशाली 5. मुजफ्फरपुर 6. सीतामढ़ी 7. शिवहर 8. पूर्वी चंपारण 9. पश्चिमी चंपारण 10. गोपालगंज 11. सारण

मुख्यमंत्री ने जिलाधिकारियों को साफ-साफ यह कहा कि सभी प्रभावित लोगों की मदद करनी है। कोई भी वंचित नहीं रहे, इसका ख्याल रखें। प्रभावित लोगों के साथ संपर्क बनाए रखें एवं उनके सुझावों पर भी गौर करें। संवेदनशील रहें। जिन लोगों को अभी ग्रैच्युट्स रिलीफ नहीं मिला है उन्हें इसका शीघ्र भुगतान करें।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि सड़कों एवं पुलों के साथ-साथ अन्य क्षति की भी रिपोर्ट कराएं। बाढ़ के दौरान जो सड़कें क्षतिग्रस्त हुई हैैं उसकी शीघ्र मरम्मत कराएं। पथ निर्माण विभाग एवं ग्रामीण कार्य विभाग अपने अभियंताओं को बाढग़्रस्त क्षेत्रों की सड़कों की स्थिति की अद्यतन जानकारी ले। सभी जिलाधिकारी आपदा प्रबंधन, कृषि तथा पशु एवम मत्स्य संसाधन विभाग के निरंतर संपर्क में रहें।

 

जल संसाधन विभाग के सचिव संजीव हंस ने मुख्यमंत्री की समीक्षा बैठक में कहा कि पहली अक्टूबर से अधिक बारिश के कारण नदियों के जलस्तर में बढ़ोतरी हुई है। आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव संजय अग्रवाल ने प्रभावित क्षेत्रों में आपदा राहत कार्यों के बारे में जानकारी दी। समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव दीपक कुमार, मुख्य सचिव त्रिपुरारी शरण, विकास आयुक्त आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, कृषि विभाग के सचिव एन सरवन कुमार, मुख्यमंत्री के सचिन अनुपम कुमार मौजूद थे।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : Dainik Jagran

Leave a Comment

close