लालू यादव को दिल्ली से आना होगा पटना, चारा घोटाला मामले में जज ने कहा- कोर्ट आएं राजद सुप्रीमो

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। चारा घोटाला मामले में सिविल कोर्ट पटना के स्पेशल जज प्रजेश कुमार की अदालत ने 23 नवंबर को आरोपित बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव समेत 28 आरोपियों को अदालत में उपस्थित होने का आदेश दिया है। मंगलवार को न्यायालय में जगदीश शर्मा, ध्रुव भगत, आरके राणा, वेद जूलियस, साधना सिंह, त्रिपुरारी मोहन प्रसाद सहित मामले के 16 आरोपित पहुंचे थे। पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद समेत तीन आरोपित अपने अधिवक्ता के माध्यम से अदालत में हाजिर हुए थे। बता दें कि यह मामला भागलपुर के बांका जिला के उपकोषागार से फर्जी विपत्र के सहारे 46 लाख रुपये की अवैध निकासी से संबंधित है।

 

बता दें कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव अभी दिल्ली में बड़ी बेटी व राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के सरकारी आवास में रह रहे हैं। यहां बिहार के पूर्व सीएम लालू चिकित्सकों की देखरेख में हैं। 30 अक्टूबर को संपन्न हुए बिहार उपचुनाव में अपनी पार्टी के समर्थन में प्रचार करने लालू बिहार आए थे। चुनाव खत्म होते ही वह पत्नी राबड़ी देवी के साथ वापस दिल्ली लौट गए। बताया गया है वह अस्वस्थ हैं। हालांकि लालू की मौजूदगी भी राजद को सफलता नहीं दिला पाई। कुशेश्वस्थान और तारापुर में आरजेडी की हार हुई। विपक्ष ने लालू के बिहार आने को हार की वजह बताया।

 

रांची की डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में भी सुनवाई शुरू होगी। राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की ओर से 29 नवंबर से बहस होगी। सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश एसके शशि की अदालत में अभी मामले की सुनवाई चल रही है। इसमें एक-दो आपूर्तिकर्ता आरोपितों को छोड़कर अन्य की ओर से बहस पूरी हो चुकी है। मामले में अब तक 56 लोगों की ओर से बहस पूरी कर ली गई है।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : Dainik Jagran

Leave a Comment

close