इलाज करने आए कंपाउंडर को दिल दे बैठी लड़की, भागकर की शादी तो पुलिस उठा ले गई

बेगूसराय में 2 दिन पहले एक प्रेमी जोड़े ने मंदिर में शादी की थी। शुक्रवार को दुल्हन को शादी वाले कपड़ों में ही कोर्ट का मुंह देखना पड़ गया। वजह यह थी कि लड़की के पिता ने प्रेमी के खिलाफ बेटी के अपहरण का केस दर्ज करा दिया था। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने उसके पति को अपहरण के आरोप में अरेस्ट कर लिया। साथ में लड़की को भी हिरासत में ले लिया।

मामला बखरी थाना क्षेत्र के गनगरहौ गांव का है। यहां के सच्चिदानंद महतो के 23 वर्षीय पुत्र मनोहर कुमार ने घाघरा निवासी लड़की से स्थानीय मंदिर में 6 जुलाई को हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर ली थी। इसके बाद लड़की पक्ष के करीब 50 लोगों ने लड़का के घर पहुंच लड़की को वापस करने की मांग की थी। लड़का पक्ष के ऐसा नहीं करने पर पिता ने थाने जाकर केस दर्ज करवा दिया।

 

शादी के जोड़े में बयान करवाने दुल्हन को कोर्ट लाई पुलिस

बखरी थाना की पुलिस ने शुक्रवार को दूल्हा और दुल्हन को कोर्ट में पेश किया। इस दौरान दुल्हन अपने शादी के जोड़े में ही थी। कोर्ट में पेशी के लिए आए पुलिस पदाधिकारी ने बताया कि लड़की के पिता ने थाने में आवेदन देकर लड़की के नाबालिग होने और लड़का द्वारा अपहरण किए जाने का मामला दर्ज करवाया है। इसी संबंध में लड़की को उसके ससुराल से बरामद और लड़का को गिरफ्तार कर मेडिकल चेकअप करा न्यायाधीश के सामने पेश किया जाएगा।

 

अफेयर में शादी की बात कर रहे लड़के के परिजन

जानकारी के अनुसार, लड़का गांव में ही एक निजी क्लीनिक में कंपाउंडर है। करीब 3 साल पहले लड़की के पिता ने उसे अपने घर इलाज के लिए बुलाया था। तभी से लड़का और लड़की के बीच संपर्क हुआ। संपर्क धीरे-धीरे प्यार में तब्दील हो गया और बात साथ जीने-मरने तक पहुंच गई। दोनों की अलग जातियों से होने के कारण यह रिश्ता लड़की के घरवालों को मंजूर नहीं था।

 

इसके बाद दोनों ने मंदिर में शादी करने का प्लान बनाया। बीते 6 जुलाई को ग्रामीणों ने धूमधाम से लड़के और लड़की की शादी स्थानीय मंदिर में कराई थी। शादी संपन्न होते ही दूल्हा और दुल्हन को घर ले आए। इसी बीच लड़की के पिता ने पुलिस में शिकायत कर दी।

Source: Dainik Bhaskar

Leave a Comment

close