मां गई मायके तो प्रेमी को बुलाया तभी रात के अंधेरे में विलेन बनकर आ पहुंचा भाई

मां शादी में शामिल होने के लिए मायके गई तो बेटी ने ये सोचकर कि अब तो अगले दिन ही मां और भाई घर वापस लौटेंगे अपने घर पर ही प्रेमी को बुला लिया लेकिन ऐन वक्त पर रंग में भंग पड़ा और लड़की का भाई रात को ही घर आ पहुंचा. जब उसने घर का दरवाजा खुलवाया तो नहीं खुला इसके बाद उसने दरवाजे को तोड़ा तो घर के अंदर का हाल देख चौंक गया क्योंकि उसके घर में कोई अनजान शख्स था, वो भी उसकी बहन के साथ. फिर क्या था प्रेमिका से मिलने चुपके-चुपके पहुंचे युवक को लोगों ने पकड़ लिया और उसकी शादी करा दी.

 

प्रेम और विवाह का ये मामला बिहार के छपरा जिले का है. जब चोरी छिपे प्यार करते हुए युवक पकड़ा गया तो उसने भी ग्रामीणों के निर्णय का स्वागत करते हुए लड़की से शादी कर ली. मामला छपरा के इशुआपुर प्रखंड के सिसवा गांव का है जहां शनिवार की रात ये घटना हुई. प्रेमिका से मिलने आए युवक को ग्रामीणों ने पकड़ लिया तो लड़के ने मामला प्रेम प्रसंग का बताया तब ग्रामीणों ने उनकी शादी करा दी. लड़की की मां सुंदरी देवी पति स्वर्गीय नागेंद्र साह ने बताया कि वह शादी समारोह में शामिल होने अपने मायके नेवाड़ी गई थी. उनको छोड़ने उनका बेटा भी साथ गया था. इस दौरान बेटी घर में अकेली थी.

बेटी के अकेली होने के कारण उसने अपने बेटे को वापस घर भेज दिया जो रात के दस बजे वापस घर आ गया .घर पहुंचकर जब उसने दरवाजा खटखटाया तो अंदर से कोई आवाज नहीं आई. तब सशंकित होकर उसने घर का दरवाजा तोड़ दिया तब तक उसकी बहन घबराई उसके सामने आई. उसके साथ एक लड़का दिखाई दिया. दरवाजा टूटने की आवाज से ग्रामीण वहां पहुचे तथा उन लोगों ने लड़के को पकड़ लिया तथा उसे उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम अनिकेत मिश्रा पिता जगत नारायण मिश्रा ग्राम धनाव थाना बनियापुर जिला सारण बताया.

 

तब ग्रामीणों ने मामला प्रेम प्रसंग का समझ सिसवा शिव मंदिर में दोनों की शादी करा दी तथा इसकी सूचना इसुआपुर थाना को दी. जहां दारोगा अख्तर खान द्वारा प्रेमी युगल को थाना लाया गया और उन्हें सुरक्षा प्रदान की गई. मामला अंतर्जातीय प्रेम-प्रसंग का होने के कारण लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है.

Leave a Comment

close