दोस्त की बेटी से करने लगा था Love, पुलिस ने सुलझाई ‘अंधे कत्ल’ की गुत्थी, जानें मामला

पुलिस ने मुजफ्फरपुर निवासी 23 वर्षीय युवक की अंधे कत्ल की गुत्थी सुलझा ली है. झंझारपुर एसडीपीओ आशीष आनंद के अनुसार, युवक की हत्या प्रेम संबंध के चलते हुई थी. इस हत्याकांड में मृतक के दोस्त लक्ष्मी मंडल समेत 7 आरोपी शामिल थे. इनमें 4 की गिरफ्तारी हो गई है. एसडीपीओ के मुताबिक मामला भैरव स्थान थाना क्षेत्र का है. जहां बीते 18 मई को सड़क किनारे तालाब से अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ था.

 

पुलिस की तकनीकी जांच में पता चला कि मृतक का नाम पप्पू सिंह है, और वो मुजफ्फरपुर के सरैया थाना क्षेत्र का रहने वाला था. पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक मृतक और इसका दोस्त लक्ष्मी मंडल,जो कि सीतामढ़ी का रहने वाला है. ये दोनों भाड़े पर पिकअप गाड़ी चलाने का काम करता था, पुलिस की तहकीकात में पता चला है कि मृतक का अपने दोस्त लक्ष्मी मंडल की बेटी के साथ प्रेम संबंध था; और इसी वजह से लक्ष्मी मंडल ने पप्पू सिंह की हत्या की साजिश रची.

झंझारपुर के एसडीपीओ आशीष आनंद ने बताया कि लक्षमी मंडल ने पहले तो भाड़े का बहाना बनाकर पप्पू सिंह को पिकअप समेत मधुबनी लाया. इसके बाद कुछ लोगों की मदद से उसकी हत्या करवा कर शव को तालाब में फेंक दिया. वहीं, मृतक की पिकअप गाड़ी को फुलपरास ले जाकर 1 लाख 30 हजार रुपये में बेच दिया.

 

बहरहाल, पुलिस ने अंधे कत्ल के इस मामले का खुलासा कर दिया है. गिरफ्त में आए 4 आरोपियों में से 3 आरोपी मुजफ्फरपुर जिले के रहने वाले हैं; जबकि 1 आरोपी मधुबनी के खुटौना थाना क्षेत्र का निवासी बताया जा रहा है. वहीं मास्टमाइंड और मृतक का दोस्त लक्ष्मी मंडल समेत 3 आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की छापेमारी चल रही है.

Leave a Comment

close