साले ने जीजा की बहन से मंदिर में की शादी, अब बताइए साले और बहनोई के बीच का रिश्‍ता?

बिहार की राजधानी पटना से सटे बिहटा में एक अजब-गजब प्रेम कहानी और उसका अंजाम सामने आया है. दरअसल, एक शख्‍स का दिल अपने ही जीजा की बहन पर आ गया. दोनों लंबे अरसे से एक-दूसरे से बातचीत करते रहे. जब बातचीत नाकाफी साबित होने लगा तो उन्‍होंने शादी करने का फैसला कर लिया. परिजनों को भी उनकी इच्‍छा के सामने अपना सिर झुकाना पड़ा. इसके बाद पुलिस स्‍टेशन में बने शिव मंदिर में लड़का और लड़की पक्ष के परिजनों की मौजूदगी में प्रेमी जोड़ा पति-पत्‍नी के बंधन में बंध गए. शादी के साथ ही जीजा और साले का संबंध भी बदल गया. अब दोनों रिश्‍ते में एक-दूसरे के साले हो गए. इस शादी की इलाके में चर्चा हो रही है.

 

जानकारी के अनुसार, शादी का यह विचित्र मामला बिहटा थाना क्षेत्र का है. गोखुलपुर गांव निवासी दिनेश पासवान की 20 वर्षीय पुत्री सुधा कुमारी मनेर थाना क्षेत्र के खासपुर गांव निवासी स्‍वर्गीय गोपी पासवान के 23 वर्षीय पुत्र आदित्य कुमार से पिछले कई सालों से फोन के जरिए बात करती थीं. सुधा और आदित्‍य के बीच लंबे से प्रेम संबंध चला आ रहा था. इसकी जानकारी मिलने के बाद दोनों परिवार की राजामंदी से पुलिस की मौजूदगी में बिहटा थाना परिसर में बने शिव मंदिर के प्रांगण में प्रेमी जोड़े की शादी कर दी गई. सुधा आदित्य के जीजा की बहन लगती हैं. ऐसे में आदित्‍य और सुधा के प्रेम संबंधों को लेकर दोनों पक्षों के परिवारों के बीच मनमुटाव श्रार चल रहा था.

लड़का पक्ष शादी से कर रहा था आनाकानी

दोनों पक्ष के परिवारवाले बिहटा थाना पहुंचे, जहां काउंसलर संगीता कुमारी ने उनकी बात सुनी. इस दौरान सुधा ने आदित्य पर आरोप लगाते हुए कहा कि बताया कि पिछले कई वर्षों से उनकी एक-दूसरे से बातचीत हो रही है. दोनों के बीच अंतरंग संबंध भी स्‍थापित हो चुके हैं. सुधा का कहना है कि इसके बावजूद आदित्‍य बार-बार शादी की बात को टाल रहा था. इसके बाद उन्‍होंने थाना पहुंचकर न्याय की गुहार लगाई. मामला बिहटा थाना पहुंचने के बाद काउंसलर संगीता कुमारी ने दोनों परिवार को थाने में बुलाकर बातचीत की. आदित्‍य का परिवार इस शादी के लिए तैयार नहीं था. दबाव बनने के बाद खुद आदित्‍य और उनका परिवार शादी के लिए तैयार हुआ. दोनों बालिग होने के सबूत मिलने के बाद थानाध्यक्ष रंजीत कुमार के निर्देश पर पूरे हिंदू रीति-रिवाज से थाना परिसर में बने शिव मंदिर में दोनों की शादी करा दी गई.

 

क्‍या कहती है पुलिस?

थाना अध्यक्ष रंजीत कुमार ने बताया कि थानाक्षेत्र के गोखुलपुर निवासी सुधा कुमारी पिछले कई दिनों से थाने की चक्कर काट रही थीं और न्याय की गुहार लगा रही थीं. सुधा ने अपनी शिकायत महिला कोषांग में की जिसके बाद काउंसलर द्वारा लड़के के परिवार को बुलाया गया, जहां दोनों पक्षों में बातचीत हुई. छानबीन में यह भी पता चला कि दोनों बालिग हैं. इसके बाद दोनों की शादी परिवार की रजामंदी से करा दी गई.

Leave a Comment

close