पढ़ाई के लिए डांटा तो सातवीं के छात्र ने पुल से बूढ़ी गंडक नदी में लगा दी छलांग

मुजफ्फरपुर में सातवीं कक्षा में फेल हो चुके एक छात्र की करतूत से पूरा परिवार सदमे में है। छात्र को पढ़ाई के लिए मां ने डांटा तो उसने पुल पर से बूढ़ी गंडक नदी में छलांग लगा दी। कोशिश करके छात्र को बचा लिया गया। घटना नगर थाना क्षेत्र के अखाड़ा घाट पुल की है। सातवीं का छात्र आयुष अहियापुर थाना के जिया लाल चौक का निवासी है। उसकी इस हरकत से मां बहुत परेशान है।

 

कपड़े धो रही महिलाओं ने बचाई जान

सिकंदरपुर ओपी के अध्यक्ष हरेंद्र कुमार ने बताया कि एक छात्र साइकिल से आया और पुल पर साइकल छोड़कर अपने बैग के साथ नदी में छलांग लगा दी। बैग में कॉपी और किताब भरे हुए थे। कुछ महिलाएं वहां कपड़े धो रही थी। महिलाओं ने बच्चे की इस हरकत को देख लिया और शोर मचाने लगी। आसपास के लोगों ने जुटकर  बच्चे को नदी की धारा से निकाल लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम आयुष बताया।

 

बच्चे की हो रही है काउन्सलिंग

पुलिस की सूचना पर मां चुलबुल देवी मौके पर पहुंची और सच्चाई बताई तो सभी लोग हैरान रह गए। इस घटना से मां सदमे में है। आयुष की मां ने बताया कि उसके पिता प्राइवेट टीचर हैं लेकिन बच्चे की पढ़ाई के लिए हमेशा सचेत और सजग रहते हैं। आयुष का सातवीं में रिजल्ट खराब हो गया था। इसकी वजह से घर में डांट पड़ी थी। कोचिंग से लौटते वक्त उसने ऐसी हड़कत की। मौके पर पहुंची पुलिस ने आयुष को समझा-बुझाकर मां के साथ घर भेज दिया। निजी डॉक्टर से आयुष का इलाज कराया जा रहा है। आयुष की तबीयत अभी ठीक है। उसके माता-पिता उसकी काउंसलिंग कर रहे हैं।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source: Live Hindustan

Leave a Comment

close