बेटी की सजा थी मंडप, पिता ने खुद 22 साल की लड़की से की तीसरी शादी

घर में बेटी की बारात आने वाली थी। शादी की सभी तैयारियां भी पूरी हो चुकी थी लेकिन इसी बीच कुछ ऐसा हुआ कि हर कोई आवाक रह गया। बेटी की शादी से ठीक एक दिन पहले पिता का इश्क जग जाहिर हो गया। मामला जब गांव के लोगों तक पहुंचा, समाज के लोगों के दबाव के कारण जो मंडप बेटी की शादी के लिए तैयार किया गया था उसमें पिता की शादी हुई।

 

दरअसल, यह अजीबो-गरीब मामला झारखंड के गढ़वा जिले में डंडई थाना क्षेत्र में सामने आया है। लवाही कला गांव निवासी 56 वर्षीय शिव प्रसाद वैद्य को अपनी ही एक छात्रा से प्रेम हो गया था। चार बच्चों का पिताशिव प्रसाद गांव की ही एक लड़की को ट्यूशन पढाने जाता था। इसी दौरान दोनों एक दूसरे के करीब आए और प्यार परवान चढ़ने लगा।

 

इसी बीच लड़की अचानक घर से लापता हो गई। लड़की के पिता ने थाने में केस दर्ज करते हुए शिव प्रसाद को आरोपी बनाया था। लेकिन तब पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की थी। तीन साल से लड़की लापता थी लेकिन बीते सोमवार को लड़की के घर वालों को जानकारी मिली कि शिव प्रसाद ने उनकी लड़की को छत्तीसगढ़ के एक गांव में रखा है। परिवार के लोगों ने इस बात की जानकारी पुलिस को दी। जब पुलिस ने शिव प्रसाद से सख्ती से पूछताछ की तो उसने सच कबूल कर लिया।

 

शिव प्रसाद ने बताया कि लड़की से उसका एक बच्चा भी है। जिसके बाद लड़की को छत्तीसगढ़ से गढ़वा लाया गया। विधिवत बारात निकाली गई और गांव के सैकड़ों लोगों की मौजूदगी में दोनों की शादी संपन्न कराई गई। शिव प्रसाद की पहले दो शादियां हो चुकी हैं और उसके चार बच्चे भी हैं।

Leave a Comment

close