15 साल लिव इन मे रहने के बाद सख्स ने अपनी तीन प्रेमिकाओं संग रचाया शादी

मध्य प्रदेश से एक बेहद चौकने वाला शादी सामने आया हैं जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही हैं । दरअसल एक सख्स ने 15 सालो तक लिव इन मे रहने के बाद अपनी तीन प्रेमिकाओं के साथ व्याह रचा लिया। लिव इन के दौरान छः बच्चे भी हुये हैं।

 

आदिवासी रीति-रिवाज से रचाया शादी

मिडया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मध्य प्रदेश के अलीराजपुर के फलिया गाँव निवासी पूर्व सरपंच समरथ मौर्य 15 साल पहले एक महिला से प्यार करने के बाद उसके साथ रहने लगे। इसके बाद वो दो और लड़कियों को भी पसंद करने लगे । तब से वह अपनी तीनों प्रेमिकाओं के संग एक साथ एक ही छत के नीचे लिव इन में रहते थे। लेकिन अब मौर्य ने अपनी तीनों प्रेमिकाओं साथ आदिवासी रीति रिवाज से शादी रचा ली हैं।

आदिवासी समाज मे शादी से पहले एक साथ रहने की हैं आजादी

जानकारी के मुताबिक, आदिवासी समाज में यदि प्रेमी-प्रेमिका एक दूसरे को पसंद करते हैं तो उन्हें एक साथ रहने की पूरी आजादी हैं।

 

शादी के कार्ड पर तीनों के नाम छपे

समरथ मौर्य ने अपनी शादी के कार्ड पर तीनों प्रेमिकाओं का नाम छपवाए थे और शादी समारोह के पूर्व शादी के कार्ड भी लोगो को बाटे थे । दरअसल आदिवासी समाज की परंपरा के अनुसार कोई भी मांगलिक कार्य करने के लिए पति-पत्नी का रीति-रिवाज के अनुसार विवाह करना जरूरी हैं। इसलिए अब मौर्य ने तीनों महिलाओं के साथ रीति-रिवाज से ब्याह रचाया हैं।इनके शादी मे उनके छह बच्चों ने भी जमकर डांस किया। उनकी तीन पत्नियों से तीन पुत्री व तीन बेटे हैं। ज्ञात हो की, भारतीय संविधान का अनुच्छेद 342 आदिवासी समाज की प्राचीन संस्कृति व रीति-रिवाज को संरक्षण प्रदान करता हैं।

Leave a Comment

close