HomeNewsTokyo Paralympics: Manish Narwal ने गोल्ड जीत रचा इतिहास, सिंहराज के हिस्से...

Tokyo Paralympics: Manish Narwal ने गोल्ड जीत रचा इतिहास, सिंहराज के हिस्से में आया सिल्वर

नई दिल्ली. भारत के मनीष नरवाल (Manish Narwal) ने मिक्स्ड 50 मीटर पिस्टल एसएच1 निशानेबाजी में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया है. वहीं 39 वर्षीय सिंहराज सिंह अडाना (Singhraj Adana) को रजत पदक मिला है. 19 साल के नरवाल ने पैरालंपिक (Tokyo Paralympics) का रिकॉर्ड बनाते हुए 218.2 स्कोर किया. वहीं अडाना ने 216.7 अंक बनाकर रजत पदक अपने नाम किया. दोनों निशानेबाज हरियाणा के फरीदाबाद के रहने वाले हैं. रूसी ओलंपिक समिति के सर्जेइ मालिशेव ने 196.8 अंकों के साथ कांस्य पदक जीता. इससे पहले क्वालीफाइंग दौर में अडाना 536 अंक लेकर चौथे और नरवाल 533 अंक लेकर सातवें स्थान पर थे. भारत के आकाश 27वें स्थान पर रहकर फाइनल में जगह नहीं बना सके.

 

इसके साथ ही टोक्यो ओलंपिक में भारत की पदकों की संख्या 15 हो गई है. भारत ने अब तक तीन गोल्ड, सात सिल्वर और पांच ब्रॉन्ज मेडल जीते हैं. टोक्यो पैरालंपिक में निशानेबाजी में भारत का 5 पदक जीत चुका है. 19 वर्षीय अवनि लेखरा ने एक गोल्ड और एक कांस्य पदक अपने नाम किया है. वहीं सिंहराज अडाना ने पैरालंपिक खेलों में 31 अगस्त को पी1 पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल एसएच1 में कांस्य पदक जीता था. अवनि की तरह ही सिंहराज भी टोक्यो पैरालंपिक में दो मेडल अपने नाम किया है.

 

एसएच1 वर्ग में निशानेबाज एक ही हाथ से पिस्टल पकड़ते हैं क्योंकि उनके एक हाथ या पैर में विकार होता है जो रीढ़ की में चोट या अंग कटने की वजह से होता है.  कुछ निशानेबाज खड़े होकर तो कुछ बैठकर निशाना लगाते हैं.

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source: News18

Ankit
Ankit
Ankit is Content Writer in tech, entertainment and sports. He has experience in digital Platforms from 3 years. official email :- ankit@bestresearch.in Author at bestresearch.in.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments