ऑस्ट्रेलिया की शिक्षिका ने बिहार आकर हिंदू रीति रिवाज से की बिहारी लड़के से शादी

ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली विक्टोरिया बक्सर जिले के इटाढ़ी प्रखंड के कुकुढा गांव के रहने वाले जयप्रकाश से प्यार करने के बाद हिंदू रीति रिवाज से शादी कर खुद को काफी भाग्यशाली मान रही है. विक्टोरिया और जयप्रकाश की शादी 20 अप्रैल की रात को बक्सर के एक मैरिज हॉल में हिंदू रीति-रिवाज से हुई थी. जानकारी के अनुसार जयप्रकाश यादव जिले के कुकुढा पंचायत के पूर्व प्रधान नंदलाल सिंह यादव के सबसे बड़े पुत्र हैं, जो ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई पूरी कर वहां काम करते हैं. इस शादी से दोनों परिवारों के लोग काफी खुश हैं.

 

जयप्रकाश 2019 में पढ़ने के लिए ऑस्ट्रेलिया गए थे

जयप्रकाश यादव ने 2019 से 2021 तक ऑस्ट्रेलिया में रहकर अपनी पढ़ाई पूरी की है। वह ऑस्ट्रेलिया में एमएस सिविल इंजीनियर के पद पर तैनात हैं। अपनी पढ़ाई के दौरान, जयप्रकाश यादव को ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न के जिलॉन्ग की एक लड़की विक्टोरिया से प्यार हो गया। जिसके बाद दोनों ने शादी करने का फैसला किया। विक्टोरिया के पिता स्टीवन टॉकेट और मां अमेंडा टॉकेट भी अपनी बेटी विक्टोरिया के साथ बक्सर में शादी में शामिल होने पहुंचे हैं. उन्होंने कुकुढा गांव के पूर्व मुखिया नंदलाल सिंह के ज्येष्ठ पुत्र जयप्रकाश यादव से 20 अप्रैल 2022 की रात हिंदू रीति रिवाज से अपनी बेटी विक्टोरिया की शादी करा दी.

 

भारतीय संस्कृति को देख खुश हैं दुल्हन के माता- पिता

जयप्रकाश के दुल्हन विक्टोरिया के पिता स्टीवन टॉकेट ने बिहारी संस्कृति के सवाल पर बोले की मुझे इस कल्चर को देखकर काफी ज्यादा खुशी हुई। बेटी के हाथ में मेहंदी देखकर वे काफी खुश हैं। विक्टोरिया के पिता होने के नाते कन्यादान की रस्म अदायगी के लिए पैर में महावर को लेकर जब उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि मुझे काफी अच्छा लगा। बिहार के बक्सर में बेटी के ससुराल में आकर काफी खुश हूं। मुझे आशा है कि मेरी बेटी इस बिहारी दामाद के साथ अपने जीवन मे काफी खुशहाल रहेगी।

 

दूल्हे का परिवार है खुश

वहीं, दूल्हे के पिता पूर्व मुखिया नंदलाल सिंह ने बताया की, मेरे परिवार के लोग जब बेटे की पसंद को जाने तो हम लोग ना नहीं कर पाए पर हमने कहा की, शादी यहीं गाँव पर हिंदू रीति रिवाज के साथ होगी तो वेलोग भी मान गए। हमारा परिवार भी इन लोगों की शादी से काफी खुश है। रिश्तेदार भी हम लोगों को बधाइयां दे रहे हैं। गांव सहित आसपास के लोग दुल्हन व उसके परिजनों को देखने के लिए घर पर पहुंच रहे हैं।

 

ऑस्ट्रेलिया में शिक्षिका हैं विक्टोरिया

बक्सर के कुकुढा मे शादी रचाने पहुंची विक्टोरिया अपने शहर जिला में बतौर शिक्षिका के पद पर कार्यरत हैं। वहीं विक्टोरिया के माता-पिता बिहारी कल्चर के साथ ही हिंदू रीति-रिवाज से शादी पर फूले नहीं समा रहे हैं।

Leave a Comment

close