HomeBiharपीयर थाने में तैनात महिला सिपाही के यौन शोषण में जमादार पर...

पीयर थाने में तैनात महिला सिपाही के यौन शोषण में जमादार पर एफआईआर

पीयर थाने में तैनात एक महिला सिपाही ने नगर थाने के जमादार जितेंद्र पासवान पर यौन शोषण के आरोप में बुधवार को महिला थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।

 

नशीला पदार्थ सुंघाकर बेहोश कर दुष्कर्म करने, अश्लील तस्वीर व वीडियो बनाने का भी आरोप लगाया है। पीड़िता ने महिला आयोग व एसएसपी को भी आवेदन देकर इसकी शिकायत की है। एसएसपी जयंतकांत ने जमादार को लाइन हाजिर कर लिया है। जांच के लिए एक विशेष टीम गठित की है। एफआईआर में महिला सिपाही ने बताया है कि 2018 में वह कांटी थाने में तैनात थी और जितेंद्र पासवान मुंशी था। उस वक्त से आरोपित की उसपर गलत नजर थी। ड्यूटी के बाद भी घर तक पीछा व बेवजह दबाव बनाकर परेशान करता था। इससे तंग आकर वह कांटी छोड़कर एमआईटी कॉलेज के पास किराये में रहने लगी। एक दिन जमादार वहां भी पहुंच गया। नशीला पदार्थ सुंघाकर बेहोश कर दिया और दुष्कर्म किया। होश आने पर जब उसने विरोध किया तो जबरदस्ती मांग में सिंदूर भर दिया। वादा किया कि वह उससे शादी करेगा। इसके बाद शादी का झांसा देकर संबंध बनाता रहा।

 

एसएसपी कार्यालय में पोस्टेड करीबी का दिखाया धौंस: पीड़िता का आरोप है कि मामला तूल पकड़ने लगा तो आरोपित जमादार ने उसे बर्बाद करने की धमकी दी। एसएसपी ऑफिस में तैनात एक अन्य जमादार से करीबी रिश्ता होने का धौंस भी दिखाया।

फोटो व वीडियो वायरल करने की धमकी : एफआईआर में आरोप लगाया गया है कि तीन माह पूर्व जमादार ने उसके साथ मारपीट कर जबरन संबंध बनाया। वीडियो व फोटो वायरल करने की धमकी दी। पीड़िता ने बताया कि फिलहाल वह काफी तनाव में है।

हत्या की नीयत से फायरिंग करने का भी आरोप: महिला सिपाही ने आरोप लगाया कि जमादार का कई लड़कियों से संबंध है। पीड़िता उससे दूरी बनाने लगी। इसके बाद वह उसके कमरे पर पहुंचा। जान मारने की नीयत से उसपर फायरिंग भी की।

 

दोषी पाए जाने पर होगी कड़ी कार्रवाई: आईजी

तिरहुत रेंज के आईजी गणेश कुमार ने बताया कि मामला बहुत ही गंभीर है। दोषी पाए जाने पर जमादार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इधर, आरोपित जमादार का कहना है कि महिला सिपाही का आरोप बेबुनियाद है। वह उसे फंसा रही है। उसके पास जो भी साक्ष्य है, उसे प्रस्तुत करे। अगर फायरिंग की बात कह रही तो उसका भी साक्ष्य उसे देना होगा। जांच में पूरा मामला साफ हो जाएगा कि कौन दोषी है और कौन निर्दोष।

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : Hindustan

Nikhil Pratap
Nikhil Prataphttps://bestresearch.in/
Nikhil Pratap is Editor Head of Best Research. He is Administrative Director who leads the Technology team at bestresearch.in. He is also media advisor at bestresearch.in. Contact: nikhil@bestresearch.in
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments