HomeBiharबिहार कैबिनेट का फैसला, शराब की बिक्री-भंडारण पर सील होगा पूरा परिसर,...

बिहार कैबिनेट का फैसला, शराब की बिक्री-भंडारण पर सील होगा पूरा परिसर, यहां पढ़ें अन्य निर्णय

किसी परिसर में शराब का निर्माण, बोतल बंदी, भंडारण, बिक्री अथवा आयात-निर्यात किया जाता है, तो पूरे परिसर को सील किया जाएगा। वहीं आवासीय परिसरों का चिह्नित भाग सीलबंद किया जाएगा, न कि पूरा परिसर। राज्य कैबिनेट ने बिहार मद्यनिषेध और उत्पाद अधिनियम में संशोधन की स्वीकृति दी है।

 

इसको लेकर जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि बिहार से गुजरने वाले मादक द्रव्य से लदे वाहनों को राज्य सीमा के अंदर प्रवेश करने के लिए घोषित चेकपोस्ट पर ही अनुमति मिलेगी। ऐसे वाहनों को 24 घंटे के अंदर राज्य की सीमा से बाहर निकलना अनिवार्य होगा। सीमा में प्रवेश के समय वाहनों में डिजिटल लॉक लगाया जाएगा, जिसे राज्य से बाहर निकलते समय खोल दिया जाएगा।

 

इथेनॉल का उत्पादन करने की कंपनी की गतिविधि सीसीटीवी कैमरे के अधीन संचालित होगी। इसमें यह भी कहा गया है कि छावनी क्षेत्र एवं मिलिट्री स्टेशन को शराब भंडारण करने की अनुमति होगी और कैंटोनमेंट क्षेत्र से बाहर किसी भी कार्यरत अथवा सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी को शराब रखने अथवा उपभोग करने की अनुमति नहीं होगी।

 

हस्तकरघा व हस्तशिल्प कर्मियों को वेतन राशि

बिहार राज्य हस्तकरघा एवं हस्तशिल्प निगम और बिहार राज्य औषधि ए‌वं रसायन विकास निगम के कर्मियों के वेतन भुगतान के लिए 77 करोड़ पांच लाख की राशि सशर्त ऋण के रूप में दी जाएगी। आकस्मिकता निधि से अग्रिम स्वीकृति दी गई है।

इथनॉल इकाई को मंजूरी

नेसर्स ईस्टर्न इंडिया बायो-फ्यूल्स प्रा. लि. कृत्यानगर पूर्णिया को बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नियमावली के तहत 65 किलोलीटर प्रतिदिन क्षमता की इथेनॉल इकाई की स्थापना की स्वीकृति कैबिनेट ने दी है। इसके लिए 96.76 करोड़ निजी पूंजी निवेश की स्वीकृति भी दी गई है। इससे 52 कुशल एवं अकुशल कामगारों का प्रत्यक्ष नियोजन हो सकेगा।

 

बंजारी सीमेंट का उत्पादन शुरू होगा 

मेसर्स कल्याणपुर सीमेंट लिमिटेड, नेशनल कंपनी लॉ ट्रीबन्यूनल (एनसीएलटी) के आदेश के आलोक में अधिग्रहण के बाद मेसर्स डालमिया डीएसपी लि. बंजारी, रोहतास के पुनर्वास पैकेज की स्वीकृति कैबिनेट ने दे दी है। अब यहां फिर से उत्पादन शुरू होगा।

 

अन्य फैसले

– बिहार तकनीकी सेवा आयोग (संशोधन) अध्यादेश, 2021 के प्रारूप की स्वीकृति
– तत्कालीन सब जज सह एसीजेएम मंझौल, बेगूसराय न्यायमंडल, संगीता रानी को अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई
– राज्यस्तरीय दावा न्यायाधिकरण के गठन के बाद इसके संचालन के लिए सात पदों के सृजन की स्वीकृति
– लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के द्वितीय चरण की स्वीकृति दी गई
– राज्य उच्च शिक्षा परिषद में 20 पदों के सृजन की स्वीकृति
– मुंगेर खड़गपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की चिकित्सक डॉ. अनामिका को पांच वर्षों से अनधिकृत रूप से अनुपस्थित रहने पर बर्खास्त किया गया

 

हेलो! Best Research के साथ Google News पर जुड़े,   लिंक

 

Source : Live Hindustan

Nikhil Pratap
Nikhil Prataphttps://bestresearch.in/
Nikhil Pratap is Editor Head of Best Research. He is Administrative Director who leads the Technology team at bestresearch.in. He is also media advisor at bestresearch.in. Contact: nikhil@bestresearch.in
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments

close